Karnavati 24 News
તાજા સમાચાર
ताजा समाचार
विदेश

सिंगापुर के पीएम ने भारतीय सांसदों पर की आपत्तिजनक टिप्पणी, भारत ने जताया कड़ा विरोध

हिंदुस्तान (India) ने सिंगापुर (Singapore) के प्रधानमंत्री ली सीन लूंग (Lee Hsien Loong) द्वारा हिंदुस्तानीय सांसदों के बारे में की गई टिप्पणी पर कड़ी नाराजगी रेट्ज कराई है। हिंदुस्तान के विराष्ट्र मंत्रालय ने इस टिप्पणी को गैरजरूरी बताते हुए सिंगापुर के उच्चायुक्त साइमन वोंग को तलब भी किया है। उन्हें साफ कर दिया गया है कि हिंदुस्तान इस तरह की टिप्पणी को बर्दाश्त नहीं करेगा। यह सही नहीं है, दोनों देसंदेहों के बीच बेहतर संबंध के लिए इससे बचना चाहिए। आइए जानते हैं आखिर ऐसा क्या कहा था सिंगापुर के पीएम ने।
क्या कहा सिंगापुर के पीएम ने
सिंगापुर के पीएम ली सीन लूंग ने लोकतंत्र को मजबूती देने के लिए हिंदुस्तान के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) की प्रशंसा की थी और वर्तमान हिंदुस्तानीय सांसदों पर रेट्ज अपराधी मुकदमाों का जिक्र किया था। उन्होंने कहा था कि विश्व में राजनीति बदल रही है और पॉलिटिक्सक वर्ग में लोगों का विश्वास घट रहा है। राष्ट्र में लोकतंत्र को कैसे कार्य करना चाहिए, इस पर बोलते हुए लूंग ने जवाहरलाल नेहरू का नाम लिया था। इसके आगे उन्होंने कहा था कि नेहरू का हिंदुस्तान ऐसा बन गया है जहां लोकसभा में आधे सांसदों के विरूद्ध बलात्कार और हत्या के इल्जाम लंबित हैं।
कुछ और नेताओं के लिए नाम
लूंग ने आगे कहा कि स्वतंत्रता के लिए लड़ने और जीतने वाले अक्सर जबरदस्त साहस, महान संस्कृति और उत्कृष्ट क्षमता वाले असाधारण जाहीरि होते हैं। डेविड बेन-गुरियन, जवाहरलाल नेहरू ऐसे ही नेता थे।वहीं कांग्रेस पार्टी ने लूंग की इस टिप्पणी के जरिए सेंट्रल गवर्नमेंट को घेरा। पार्टी ने कहा जहां दुनिया पहले पीएम से प्रेरणा लेती है, वहीं उपस्थिता पीएम संसद के अंरेट और बाहर उन्हें बदनाम करते हैं।

संबंधित पोस्ट

11 साल के मासूम का अकेला सफर: यूक्रेन से जान बचाकर 1100 किमी दूर स्लोवाकिया सीमा पर पहुंचा बच्चा; हाथ पर लिखे नंबर ने रिश्तेदारों का परिचय कराया

Karnavati 24 News

ब्रिटेन ने कहा- ‘अपनी-अपनी हिंद-प्रशांत रणनीतियों के क्रियान्वयन में समन्वय के लिए अमेरिका और ब्रिटेन प्रतिबद्ध’

Karnavati 24 News

इस शर्त के साथ जो बाइडेन और व्लादिमीर पुतिन की होगी मुलाकात, क्या रूस मानेगा अमेरिका की बात?

Karnavati 24 News

बाइडेन ने 52.7 अरब डॉलर पर हस्ताक्षर किए, चीन का मुकाबला करने के लिए चिप उत्पादन का बिल

Karnavati 24 News

नया वेरिएंट आने तक हम सुरक्षित हैं!: भारत की 98 फीसदी आबादी में ओमाइक्रोन के कारण एंटीबॉडीज, इसलिए कोरोना का खतरा बेमानी

Karnavati 24 News

અમેરિકામાં ફરી ગોળીબાર, વર્જિનિયા યુનિવર્સિટીમાં રેપિડ ફાયરિંગમાં 3 લોકોના મોત

Admin