Karnavati 24 News
તાજા સમાચાર
ताजा समाचार
खेल

IND vs WI: रोहित शर्मा ने सीरीज से पहले क्यों कहा, मुझे और धवन को टीम से बाहर कर दिया जाए?

भारत और वेस्ट इंडीज वनडे सीरीज (India vs West Indies ODI) के जरिए रोहित शर्मा (Rohit Sharma) भारतीय वनडे टीम के पूर्णकालिक कप्तान के रूप में पारी की शुरुआत करेंगे.
रोहित शर्मा (Rohit Sharma) अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मजेदार बयानों के लिए जाने जाते हैं. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्णकालिक वनडे कप्तान बनने के बाद पहली बार पत्रकारों से बातचीत के दौरान भी उनका यह अंदाज देखने को मिला. भारत-वेस्ट इंडीज वनडे सीरीज (India vs West Indies ODI) से पहले उन्होंने टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन को लेकर ऐसा बयान दिया जिसे सुनकर सभी लोग हंसने लगे. उनसे पूछा गया था कि क्या भारतीय टीम की पहली तीन पॉजिशन में युवा बल्लेबाजों को मौका नहीं देना चाहिए. इस पर रोहित ने अपने अंदाज में कहा, ‘तो आप चाहते हैं कि इशान किशन और ऋतुराज गायकवाड़ को ओपनर बनाया जाए. मुझे और शिखर धवन को टीम से बाहर कर दिया जाए?’

रोहित शर्मा यह कहते हुए खुद भी हंस पड़े. साथ ही सवाल पूछने वाले पत्रकार भी हंसने लगे. हालांकि रोहित ने आगे कहा कि युवाओं को निश्चित तौर पर उनके मौके मिलेंगे. उन्होंने साफ कर दिया कि इशान किशन उनके साथ ओपनिंग करेंगे. शिखर धवन और ऋतुराज गायकवाड़ कोरोना की चपेट में हैं. ऐसे में दोनों का वनडे सीरीज में खेल पाना मुश्किल लग रहा है. इशान किशन को इसी वजह से ओपनर के तौर पर मौका मिल रहा है. वे पहले वनडे टीम का हिस्सा भी नहीं थे.

धवन, गायकवाड़ और श्रेयस का खेलना तय नहीं
रोहित शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले धवन, गायकवाड़ और श्रेयस अय्यर तीनों अभी आइसोलेशन में हैं. अभी तय नहीं है कि वे खेलने के लिए कब उपलब्ध होंगे. रोहित ने कहा, ‘इस समय तीनों आइसोलेशन में हैं. उनकी सेहत में सुधार हो रहा है और यह अच्छी बात है. लेकिन उनके बारे में कुछ निश्चित नहीं है.’

कोरोना के चलते बिगड़ता है बैलेंस
रोहित शर्मा ने माना कि कोरोना के चलते स्थिति बिगड़ती है और इससे टीम का बैलेंस भी खराब होता है. उन्होंने कहा, ‘देखिए यह मुश्किल स्थिति है. कोरोना के चलते काफी अनिश्चय रहता है और ऐसा कुछ होने पर ठीक होने का अलग-अलग समय होता क्योंकि हर खिलाड़ी अलग होता है. कई बार सात-आठ दिन लगते हैं तो कभी 14 दिन भी लग जाते हैं.’

रोहित ने आगे कहा कि कोरोना काल में खिलाड़ियों को अपनी पसंद की जगह से अलग खेलने के लिए भी तैयार रहना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘जिस समय में हम रह रहे हैं उसे टीम समझती है. मौका कभी भी आ सकता है और उन्हें तैयार रहना होगा. टीम के लिए उन्हें करना होगा और हमने सबको साफ कर दिया है कि क्या हो सकता है. इन हालात में कभी भी ऐसा हो सकता है. इसलिए अगर कोई किसी की जगह आता है तो उसे तुरंत खुद को ढालना होगा और खेलना होगा.’

संबंधित पोस्ट

IPL 2023: કોલકાતાએ હૈદરાબાદને હરાવીને પ્લેઓફની આશા જીવંત રાખી, જાણો પોઈન્ટ ટેબલમાં તમામ ટીમોની સ્થિતિ

GT vs RCB Fantasy 11 Guide: हार्दिक पांड्या के 7 मैचों में 305 रन, दिनेश कार्तिक को भी मिल सकते हैं अंक

Karnavati 24 News

दीपक ने उम्मीद जगाई, वह जीत गया

Karnavati 24 News

हैप्पी बर्थडे हिटमैन : गरीबी में बीता बचपन, टेस्ट डेब्यू पर बनाया शतक, 5 आईपीएल जीतने वाले इकलौते कप्तान

Karnavati 24 News

IPL स्टार मुकेश चौधरी की कहानी: नेट्स में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज से प्रभावित हुए धोनी, CSK ने टीम में लिया तो रचा इतिहास

Karnavati 24 News

मनप्रीत सिंह होंगे पीवी सिंधु के साथ राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भारतीय दल के सह-ध्वजवाहक

Karnavati 24 News