Karnavati 24 News
તાજા સમાચાર
ताजा समाचार
जीवन शैली

विटामिन की कमी: आधुनिक जीवन शैली में यह विटामिन सबसे महत्वपूर्ण है, इसे अनदेखा करना भारी हो सकता है

विटामिन डी की कमी के लक्षण: शरीर के लिए विटामिन कितने जरूरी हैं, इससे हम सभी वाकिफ हैं। इस जरूरत को पूरा करने के लिए हेल्दी फूड खाना जरूरी है। इन विटामिनों में से एक ऐसा विटामिन है जो विशेष रूप से सीधी धूप से प्राप्त होता है, हालांकि यह कुछ चीजें खाने से भी पाया जा सकता है। हम बात कर रहे हैं विटामिन डी की जो आज की भागदौड़ भरी जिंदगी और आधुनिक जीवनशैली में बेहद जरूरी है। हमारा शरीर इन पोषक तत्वों की कमी को सहन नहीं कर पाएगा और कई गंभीर समस्याएं पैदा होने लगेंगी।

विटामिन डी की कमी का पता कैसे लगाएं (विटामिन डी की कमी के लक्षण)
– हमेशा थकान महसूस होना
– हड्डियों और जोड़ों में दर्द
– गंभीर पीठ दर्द
-घाव जल्दी भरना
– तेजी से बालों का झड़ना
– तनाव में रहना

विटामिन डी की कमी क्यों होती है? (विटामिन डी की कमी के कारण)
हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना ​​है कि अगर आप हेल्दी फूड्स की जगह खाना खाने लगेंगे तो विटामिन डी की कमी होना लाजमी है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप दिन में कुछ वक्त धूप में बिताएं, लेकिन यह भी याद रखें कि डायरेक्ट सूरज की रोशनी इस विटामिन का एकमात्र स्रोत नहीं है। अपनी डाइट में कुछ जरूरी चीजों को शामिल करके आप इस विटामिन की कमी को दूर कर पाएंगे।

विटामिन डी पाने के लिए खाएं ये चीजें
1. सोयाबीन
सोयाबीन में विटामिन डी के अलावा प्रोटीन, विटामिन बी, फोलेट, जिंक, सेलेनियम, कैल्शियम और ओमेगा-3 फैटी एसिड जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, इसे खाने से ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा कम हो जाता है।

2. दूध
दूध को संपूर्ण आहार माना जाता है क्योंकि यह सभी आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है। दूध पीने से विटामिन डी और कैल्शियम की कमी पूरी हो जाती है और यह हड्डियों की मजबूती का कारण बनता है।

3. अंडा
विटामिन डी की कमी को दूर करने के लिए सुबह के नाश्ते में अंडे का सेवन करें, इसमें प्रोटीन और कैल्शियम और प्राकृतिक वसा भी अच्छी मात्रा में होती है जो शरीर के विकास के लिए जरूरी है।
दूध को संपूर्ण आहार माना जाता है, इसमें विटामिन डी के अलावा कैल्शियम भी होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है।

4. पालक
पालक को हरी पत्तेदार सब्जियों में सबसे अच्छे भोजन में से एक माना जाता है, जो विटामिन डी की कमी को पूरा करता है। इसे दैनिक आहार में अवश्य शामिल करें।

5. पनीर
पनीर दुग्ध उत्पादों में विटामिन डी और कैल्शियम का उत्कृष्ट स्रोत है। इससे न सिर्फ हड्डियां बल्कि मांसपेशियां भी मजबूत होती हैं। इसे नियमित रूप से खाएं बशर्ते आप खाना पकाने में बहुत अधिक तेल का प्रयोग न करें।

संबंधित पोस्ट

कमजोरी, आलस सभी तरह की शारीरिक कमजोरी को दूर करते है, ये पांच चीजें जानिए क्या है।

Karnavati 24 News

त्योहार के सीज़न में बना ले मोहनथाल। जाने पूरी रेसिपी।

Admin

समांथा के ब्यूटी सीक्रेट्स : समांथा रूथ प्रभु ने ग्लोइंग स्किन के लिए अपनाए ये नेचुरल तरीके, आजमाएं भी

Karnavati 24 News

स्नान-दान और पितरों का पर्व: मंगलवार को आषाढ़ अमावस्या को श्राद्ध और बुधवार को स्नान-दान से मिलेगा पुण्य, पीपल पूजा से कम होगा शनि दोष

Karnavati 24 News

क्या आप वजन कम करने के लिए दौड़ रहे हैं? पाएँ बेहतर परिणामों के लिए रणनीतियाँ |

Karnavati 24 News

घुटने के दर्द का इलाज: घुटने के दर्द के लिए क्या खाएं? इन चीजों को जरूर करें शामिल, मिलेगी राहत

Karnavati 24 News