Karnavati 24 News
તાજા સમાચાર
ताजा समाचार
देश

ओमाइक्रोन: 4 राज्यों में ओमाइक्रोन वेरिएंट के 400 से ज्यादा मामले, देशभर में अब तक 1700 मरीज ठीक हो चुके हैं

महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के सबसे अधिक 1,247 मामले सामने आए हैं, इसके बाद राजस्थान (645 मामले), दिल्ली (546 मामले), कर्नाटक (479 मामले) और केरल में 350 मामले में संक्रमण के केस आए हैं.
देश में कोरोना वायरस (Corona virus) के बढ़ते मामलों के बीच ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) के मामले भी बढ़ रहे हैं. ओमिक्रॉन का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा आज मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटों में अत्यधिक उत्परिवर्तित वेरिएंट (highly-mutated variant) के 400 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं.

इसके साथ, ओमिक्रॉन मामलों की कुल संख्या बढ़कर 4,461 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से यह भी पता चला है कि 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ओमिक्रॉन के मामले फैल चुके हैं. महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के सबसे अधिक 1,247 मामले सामने आए हैं, इसके बाद राजस्थान (645 मामले), दिल्ली (546 मामले), कर्नाटक (479 मामले) और केरल में 350 मामले में संक्रमण के केस आए हैं.

ओमिक्रॉन के 17 सौ मरीज हुए रिकवर
दूसरी ओर, देश भर में ओमिक्रॉन वेरिएंट से कुल संक्रमित मामलों में से अब तक 1,711 मरीज ठीक हो चुके हैं या उन्हें अस्पतालों से छुट्टी मिल गई है. फिलहाल देश में ओमिक्रॉन के मामले बढ़कर 4,461 हो गए हैं.

हालांकि ओमिक्रॉन को मौजूदा कोविड-19 वैक्सीन के लिए अधिक प्रतिरोधी माना जाता है, लेकिन यह हल्के संक्रमण का कारण बन रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कल सोमवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) को एक पत्र भेजकर कहा कि एक्टिव केस में से पांच से 10 प्रतिशत लोगों को ही अस्पताल में भर्ती होने की जरुरत पड़ रही है. हालांकि, उन्होंने कहा कि स्थिति गतिशील और विकसित हो रही है इसलिए अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता भी तेजी से बदल सकती है.

भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह दी कि वे एक्टिव केस की कुल संख्या की स्थिति पर नजर रखें, खासकर उनका जो होम आइसोलेशन में हैं, अस्पताल में भर्ती हैं, आईसीयू और वेंटिलेशन सपोर्ट पर हैं. साथ ही ऑक्सीजन बेड्स के मामले पर भी नजर बनाए रखी जाए.

देश में 24 घंटे में 1.68 लाख नए केस
भूषण ने अपने पत्र में यह भी कहा, कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने जंबो स्वास्थ्य सुविधाओं, फील्ड अस्पतालों, अस्थायी अस्पतालों आदि की स्थापना के लिए कई कदम उठाए हैं, और इसकी सराहना भी की जानी चाहिए क्योंकि बुनियादी ढांचे और मानव संसाधन दोनों की अपनी सीमाएं हैं.

केंद्र और केंद्र शासित प्रदेशों के बीच जारी कोरोना गाइडलाइंस के बीच देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के कारण 1,68,063 नए केस दर्ज किए गए जबकि इस दौरान 277 मरीजों की मौत भी हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आज मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में वर्तमान में एक्टिव केस की संख्या 8,21,446 हो गई है.

संबंधित पोस्ट

उत्तराखंड में बड़ा सड़क हादसा, शादी से वापस लौट रहा वाहन खाई में गिरा; 13 की मौत

Karnavati 24 News

जरूरत की खबर: 18 साल से ऊपर के लोगों को मिलेगी कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक, जानिए कब और कैसे ले पाएंगे आप?

Karnavati 24 News

KKR v/s RR, LIVE: राजस्थान मैच विजेता जीत, बटलर विस्फोटक फॉर्म में, चहल ने लिए 19 विकेट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के अनुसार, लगभग 2 करोड़ वैक्सीन शॉट पात्र लाभार्थियों को किए वितरित

Karnavati 24 News

पंजाब कैबिनेट: 11 में से सात मंत्रियों पर आपराधिक मामले, ९ मंत्री करोड़पति

Karnavati 24 News

चाइना डोर से युवती की मौत के बाद उज्जैन में जागा प्रशासन, सख्त कार्रवाई शुरू

Karnavati 24 News